10 हजार को हम 10K लिखते हैं लेकिन 10T क्यों नहीं?

आपमें से अधिकतर लोगों ने जहन में कभी न कभी ये सवाल जरूर उठा होगा, लेकिन उसका जवाब नहीं मिल पाया होगा. इसलिए आज आपको इसके पीछे के गणित के बारे में बताएंगे कि क्यों हम `T` के बजाय `K` का इस्तेमाल करते है

दुनिया भर में शॉर्ट फॉर्म का चलन इतना ज्यादा बढ़ गया है कि लोग संख्या को भी अब शॉर्ट में लिखने लगे हैं. अगर किसी से 10 हजार और 10 मिलियन लिखने के बोला जाए तो वो 10K और 10M लिखना पसंद करता है. हालांकि सवाल यहीं खड़ा होता है कि जब हम मिलियन के लिए ‘M’ का इस्तेमाल करते हैं तो हजार के लिए ‘T’ का क्यों नहीं? क्यों हम हजार के लिए ‘K’ का इस्तेमाल करते हैं?

चलिए जानते हैं इसके पीछे क्या गणित है.क्यों किया जाता है ‘K’ का इस्तेमाल?

‘K’ की कहानी एक ग्रीक वर्ड ‘Chilioi’ से शुरू हुई, जिसका मतलब है हजार. पहले ग्रीक में ‘हजार’ के लिए इसका ही इस्तेमाल किया जाता है. बाइबल में भी इसका जिक्र किया गया है. ग्रीक के बाद फ्रेंच ने भी इस शब्द को अपना लिया, जो बाद में किलो (Kilo) बन गया. इसके बाद किलो का इस्तेमाल हजार से जोड़कर किया जाने लगा. जहां भी किसी को हजार से गुणा करना होता था, वहां किलो का इस्तेमाल किया जाने लगा. जैसे 1000 ग्राम बना किलोग्राम, 1000 मीटर बना किलोमीटर, 1000 लीटर बना किलोलीटर आदि. यानी 1000 के लिए किलो का इस्तेमाल किया जाता है. इसी वजह से किलो ही हजार का प्रतीक बना. ऐसे में Kilo के लिए ही K का इस्तेमाल किया जाता है. और इसी कारण जब भी हम 10 हजार लिखते हैं तो 10k लिख दिया जाता है और 50 हजार के लिए 50k.

Share Now

Leave a Reply

Your email address will not be published.